SEBI Registration No - INA000003197 Investment in stock and commodity market are subject to market risk. Please do not trade on those tips which are not provided through SMS.

Blog

market news

बैंकिंग स्टॉक्स में सेलिंग से मार्केट पर बढ़ा प्रेशर, ऐसे बनाएं निवेश की स्ट्रैटजी

बैंकिंग सेक्टर के लिए नोटबंदी के बाद बना पॉजिटिव सेंटीमेंट अब गायब होता दिख रहा है। हफ्ते के शुरुआती दो दिनों में बैंकिंग स्टॉक्स में बिकवाली हावी है, जिस कारण स्टॉक्स मार्केट भी लगभग फ्लैट बंद हुए हैं। इसकी वजह रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) का हाल का वह आदेश माना जा रहा है, जिसमें बैंकों से उनसे पास जमा अतिरिक्त डिपॉजिट्स को सीआरआर में जमा करने के लिए कहा गया था। हालांकि एक्सपर्ट बैंकिंग सेक्टर को लेकर बुलिश हैं और आगे तेजी की संभावनाएं जाहिर कर रहे हैं।.

नोटबंदी के बाद से बैंकिंग स्टॉक्स में थी तेजी
सरकार के नोटबंदी अभियान से बैंकिंग सेक्टर में के शेयरों में तेजी का माहौल बना था, क्योंकि इससे बैंकों के पास बहुत सा डिपॉजिट आ गया था और उनका कासा (करंट अकाउंट सेविंग अकाउंट) बहुत अच्छा हो गया था। देश भर में पीएसयू बैंकों की पहुंच ज्यादा है, इसलिए इसका फायदा भी उन्हीं को ज्यादा हुआ। इसीलिए 8 नवंबर के बाद से निफ्टी पीएसयू बैंक इंडेक्स 4.4 फीसदी उछलकर 3208.65 प्वाइंट्स रुपए पर पहुंच गया। हालांकि बीते दो दिनों की बात करें तो पीएसयू बैंक इंडेक्स में लगभग 2.5 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई है।.

पीएसयू बैंकों पर बुलिश हैं एक्सपर्ट
कैपिटल सिंडिकेट के मैनेजिंग पार्टनर सुब्रमण्यम पशुपति ने कहा कि बीते दो दिनों के दौरान पीएसयू बैंकों के स्टॉक्स में बिकवाली महज कंसॉलिडेशन है। नोटबंदी के बाद पीएसयू बैंक स्टॉक्स में खासी तेजी आ चुकी है। उन्होंने कहा कि नोटबंदी से बैंकों को खासा डिपॉजिट मिला है, जिससे उन्हें अपनी कैपिटल संबंधी जरूरतें पूरी करने में मदद मिलेगी। उन्होंने कहा कि बैंकों ने फाइनेंशियल ईयर के पहले और दूसरे क्वार्टर में प्रोविजंस बढ़ा दिए थे। आने वाले दोनों क्वार्टर में ऐसे इश्यूज में कमी आएगी।.

स्टॉक्स में कर सकते हैं निवेश
1.एसबीआई
2.बैंक ऑफ बड़ौदा
3.यस बैंक

हमारे एक्सपर्ट की एडवाइस जानने के लिए अपना नंबर तुरंत रजिस्टर करे और ज्यादा से ज्यादा मुनाफा कमाए शेयर बाजार से